ये तरीका अपनाओगे तो ख़त्म होगी चर्बी और मिलेगी फिट बॉडी !

0
3
Tips for Weight Loss

किसी भी महिला या पुरुष द्वारा अपने शरीर के फिटनेस पर ध्यान न देने से पेट की चर्बी जैसी समस्या उत्पन्न होती है। जब कोई भी अपने बॉडी से हार्ड वर्क नहीं लेता या अत्यधिक फ़ास्ट फ़ूड और ऑयली फ़ूड का सेवन करता है, ऐसे में धीरे-धीरे चर्बी बननी शुरू हो जाती है। चर्बी बढ़ने से शरीर का आकार बदल जाता है बड़ा पेट निकल जाता है और जीवन मुश्किल लगने लगता है। इस बढ़ती चर्बी और फैट की वजह से शरीर में कई प्रकार की स्वास्थ्य समस्याएं होती रहती है। दरअसल, विसेरल फैट्स इंनटर्नल ऑर्गन के पास होता है जो मेटाबॉलिकली एक्टिव होता है जो केमिकल्स रीलिज करता है जिसके कारण ऑक्सीडेटिव डैमेज होता है। इसके कारण ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल होने का खतरा बढ़ जाता है। बात करे चर्बी को कम करने की तो इसे कम करना मुश्किल जरूर होता है पर नामुमकिन नहीं होता है। कुछ डाइट फॉलो करके तथा शारीरिक परिश्रम करके इसे काफी हद तक कम किया जा सकता है तथा नित्य व्यायाम और योगा से पूर्ण खत्म कर के फिट बॉडी पाया जा सकता है।

चर्बी बढ़ने के मुख्य कारण :-
  • एलकोहल का अधिक मात्रा में सेवन
  • शारीरिक परिश्रम न करना
  • प्रोस्टेट फ़ूड का सेवन
  • अनुवांशिक हार्मोनल गुण

जब हम चर्बी कम करने की कोशिश कर रहे होते हैं तो इसके लिए जरुरी होता है इसे जारी रखना। कुछ डाइट फॉलो करके तथा शारीरिक परिश्रम करके इसे काफी हद तक कम किया जा सकता है तथा नित्य व्यायाम और योगा से पूर्ण खत्म कर के फिट बॉडी पाया जा सकता है। तो आज हम आपको बताने जा रहे है कुछ ऐसे स्वस्थ घरेलू उपचारों के बारे में। जिनकी मदद से आप आसानी से अपना फिगर मैंटेन कर सकते हैं। तो आइए जानते हैं इन टिप्स के बारे में –

खाली पेट गुनगुना नींबू पानी:-

Lemmon benefits for fat

अगर आप पेट की चर्बी को कम कर बॉडी फिट बनाना चाहते हैं, तो आपको सुबह-सुबह चाय तथा कॉफ़ी की जगह खाली पेट गुनगुने पानी में नींबू निचोड़कर पीना चाहिए। क्योंकि नींबू में विटामिन C और एंटीऑक्सीडेंट गुण भरपूर मात्रा में होते है। तथा एक गिलास नींबू पानी में ज्‍यादा से ज्‍यादा 6 कैलोरी होती हैं। एक अध्ययन के अनुसार अगर बॉडी अच्‍छी तरह हाइड्रेट हो तो इससे सूत्रकण‍िका या माइटोकॉण्ड्रिया बेहतर ढंग से काम करती है। माइटोकॉण्ड्रिया एक कोशिका होती है जो शरीर में ऊर्जा पैदा करने का काम करती है। नींबू पानी पीने से शरीर का मेटाबॉलिज्‍म बढ़ता है, पाचन को दुरुस्त होता है और शरीर को डिटॉक्स करने में मदद करता है, जिससे फैट बर्न करने में आसानी होती है।
और पढ़े:- तुलसी के बीज तथा पत्तियों में छुपा है, आपके सेहत का राज़ !

करे जीरा पानी का सेवन:-

cumin is very benefial for fat

जीरे में मैंगनीज लौह तत्व, मैग्नीशियम, कैल्शियम, जिंक और फॉस्फोरस भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जीरा पाउडर के सेवन से शरीर मे वसा का अवशोषण कम होता है। एक रिसर्च में मोटे लोगो को शामिल किया गया था उसमे पता चला था जीरा ना सिर्फ एक्स्ट्रा कैलोरी को बर्न करता है बल्कि मेटाबॉलिज्म रेट बढ़ाता है और पाचन क्रिया को बेहतर बनाता है। जीरा में थायमोक्विनोन नाम का एक तत्व पाया जाता है। यह शरीर में मौजूद फ्री रैडिकल्स को शरीर से बाहर निकाल देता है। 1 चम्मच जीरा रात को एक गिलास पानी में भिगो दे, तथा सुबह इसे उबाल ले और हल्का ठंडा होने पर इसमें नींबू निचोड़ कर खाली पेट पीये। 15-20 दिनों में असर आपको दिखना शुरू हो जायेगा।
और पढ़े:- मोटे पुरुष हो जाये सावधान, मोटापे से बढ़ सकती है ये यौन समस्याएँ !

करक्यूमिन युक्त भोजन अपनाये:-

curcumin for weight loss

बहुत कम लोगो को पता होगा की मोटापा एक इंफ्लेमेटरी स्थिति है। इसलिए अपने भोजन में करक्यूमिन की मात्रा बढ़ाना बहुत जरुरी हो जाता है। करक्यूमिन युक्त मसाले जैसे हल्दी, अदरक अपने एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के साथ चर्बीयुक्त मोटापे की समस्या को हल करने में बहुत मददगार साबित होते है। अगर आप वजन कम करना चाहते है तो ये आहार आपके लिए एक बेहतरीन उपाय है। यह लोगों में इंसुलिन के स्तर को नियंत्रित करने में भी बहुत लाभदायक होता है।
और पढ़े:- पतला होने के लिए डाइटिंग कैसे करें

एक्सरसाइज़ और योगा अपनाये:-

Exercise is good for weight loss

शारीरिक परिश्रम न करने से मनुष्य की मांशपेशियां सिथिल हो जाती है और उचित ढंग से काम नहीं करती है। जिसके फलस्वरूप चर्बी (फैट) एक जगह इकठ्ठा होने लगता है। शारीरिक परिश्रम करने से मांशपेशियां एक्टिव होती है और पसीना निकलता है जिससे चर्बी कम होता है। इस लिए अगर वजन कम करना चाहते है तो नित्यदिन फ्रेश होने के बाद एक्सरसाइज़ और योगा जरूर करें।

तो दोस्तो, हमारा ये आर्टिकल आपको कैसा लगा? अगर अच्छा लगा, तो इसे अन्य लोगों के साथ भी ज़रूर शेयर करें। न जाने कौन-सी जानकारी किस ज़रूरतमंद के काम आ जाए। साथ ही, अगर आप किसी ख़ास विषय या परेशानी पर आर्टिकल चाहते हैं, तो कमेंट बॉक्स में हमें ज़रूर बताएं। हम यथाशीघ्र आपके लिए उस विषय पर आर्टिकल लेकर आएंगे, धन्यवाद!!

Ayurvedic Health Care Advertisement