क्या आप जानते हैं ग्रीन टी पीने के फ़ायदे और नुकसान?

2
458
Green Tea Benefits Side Effects in Hindi

Green Tea Benefits Side Effects in Hindi : भारत में सबसे मशहूर और दिन की शुरुआत करनी वाली चाय का स्वाद और उसकी महक तो हम सभी जानते है। ग्रीन टी न केवल आपके स्वास्थ्य अपितु आपके बाल और आपकी त्वचा के लिए भी बहुत लाभकारी है। इसका सेवन करने से शरीर के कई प्रकार के रोग बिना डॉक्टरी इलाज के ही समाप्त हो जाते है। इसमें पाए जाने वाले गुण शरीर को नुकसान पहुँचाने वाले विषाणुओं और बैक्टीरिया को समाप्त करते है और हमारे चुस्त और तंदुरुस्त रखते है। इसके सेवन से खून में cholesterol की मात्रा तो कम होती ही है साथ-साथ BP अर्थात उच्च रक्तचाप और मधुमेह जैसी समस्यायों से भी छुटकारा पाया जा सकता है। ग्रीन टी के इन्ही कुछ गुणों के कारण इसे आयुर्वेद में भी अच्छा-खासा स्थान प्राप्त है।

स्वाद के तौर पर तो सभी इसका सेवन करते है लेकिन इसका सबसे बड़ा फ़ायदा वजन से जुड़ा है। इसका सेवन करने से व्यक्ति बिना किसी दुष्परिणाम के अपना वजन आसानी से घटा सकता है जो वर्तमान की सबसे बड़ी समस्या है। इसके अतिरिक्त ग्रीन टी के और भी कई फ़ायदे है। लेकिन अपने तो सुना ही होगा की जहाँ फ़ायदे है वहां नुकसान भी, ग्रीन टी की स्थिति भी कुछ ऐसी ही है। यूँ तो ग्रीन टी एक आयुर्वेदिक पेय है लेकिन कई परिस्थितियों में इसका सेवन हानिकारक भी हो सकता है। जिनकी जानकारी के आभाव में कई लोग बड़ी परेशानियों में फस जाते है। इसलिए आज हम आपको ग्रीन टी के सेवन के फ़ायदे और उसके नुकसानों के बारे में बताने जा रहे है।

ग्रीन टी पीने के फ़ायदे (Benefits Of Drinking Green Tea)

Green Tea Benefits Side Effects in Hindi

  • वज़न घटाने का सबसे अच्छा उपाय।
  • मुँह से आने वाली दुर्गन्ध की समस्या जिसे halitosis के नाम से जाना जाता है में ग्रीन टी एक फायदेमंद उपचार है।
  • शरीर में Cholesterol की मात्रा को कम करे।
  • त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए भी किया जा सकता है ग्रीन टी का प्रयोग।
  • ग्रीन टी में पाए जाने वाले तत्व शरीर को सभी प्रकार की एलर्जी से बचाते है।
  • अच्छे और लंबे बालों के लिए ग्रीन टी से अपने बाल धोएं।
  • ग्रीन टी की Anti Septic प्रकृति बालों से सम्बंधित समस्याओं को ठीक करने में मदद करती है।
  • डेंड्रफ और psoriasis में होने वाली समस्यायों को ठीक करे।
  • मधुमेह को नियंत्रितकरे।
  • ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) को संतुलित रखकर मनुष्य को स्वास्थ्य रखती है।
  • ग्रीन टी का सेवन करने से दिल संबंधी बीमारियों का खतरा कम होता है।
  • इसमें पाए जाने वाले Anti Oxidents Platelet Aggregation को ठीक करने में मदद करते है।
  • हृदय संबंधी बीमारियों से पीड़ित व्यक्ति को ग्रीन टी का सेवन करना चाहिए।
  • Skin कैंसर को ठीक करने के लिए ग्रीन टी एक फायदेमंद उपाय है।
  • ग्रीन टी Mortality दर को कम करती है जो हृदय रोगों का मुख्य कारण होती है।
  • गुप्तांग में मस्सा होने पर ग्रीन टी का प्रयोग करे।
  • ग्रीन टी के अन्य फायदों में सबसे महत्वपूर्ण गर्भवती महिला के लिए फ़ायदे है।
  • इसमें Anti Oxidents की अधिक मात्रा पायी जाती है जो मृत कोशिकाओं को ठीक करने, खून में शुगर को नियंत्रित करने और insulin के स्तर को नियंत्रित करने का काम करते है।
  • गर्भावस्था में मधुमेह और उच्चरक्तचाप की समस्या अधिक पायी जाती है। ग्रीन टी के तत्व इन समस्याओं की संभावना को कम करके Immune System को मजबूत करते है।
  • गठिया में ग्रीन टी का सेवन करने से फ़ायदा मिलता है।

 ग्रीन टी के फ़ायदे (Benefits Of Green Tea): 

  • नाखूनों के पीलेपन से छुटकारा पाने के लिए हफ्ते में एक बार अपने नाखूनों को ग्रीन टी में भिगो कर रखे।
  • ग्रीन टी का प्रयोग Cuticle oil के रूप में भी किया जा सकता है।
  • तांत्रिक प्रणाली से सम्बंधित समस्या से बचने और उसका इलाज करने के लिए भी ग्रीन टी का प्रयोग किया जाता है।
  • Alzheimer’s और Parkinson`s जैसी बीमारियों में ग्रीन टी बहुत फायदेमंद होती है।
  • ग्रीन टी में नींबू के रस को मिलाकर पीने से कोशिकाओं को ठीक किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त त्वचा, हड्डिया, दांत, ligaments और cartilage को स्वस्थ रखने के लिए भी ग्रीन टी का सेवन करे।
  • ग्रीन टी के साथ नींबू का रस मिलाकर पीने से शरीर की iron को absorb करने की क्षमता बढ़ती है।
  • दांत और मसूड़ो को स्वस्थ रखने के लिए ग्रीन टी का सेवन करे।
  • ग्रीन टी का सेवन करने से मृत्यु की सम्भावना कम हो जाती है।
  • स्तन कैंसर जैसी बीमारी से बचने के लिए भी ग्रीन टी एक अच्छा उपाय है।

ग्रीन टी पीने के नुकसान (Side Effects of Green Tea):

Green Tea Benefits Side Effects in Hindi

यूँ तो ग्रीन टी का सेवन करने के कई फ़ायदे है लेकिन कई परिस्थितियों में इसका सेवन आपके लिए हानिकारक भी सिद्ध हो सकता है।

जैसे गर्भावस्था !इस अवस्था में ग्रीन टी का सेवन करने से भूख नहीं लगती और गर्भवती महिला ठीक प्रकार से खाना नहीं खाती जिसके कारण उसके भ्रूण को भी पूरा पोषण नहीं मिल पर और Pre Mature डिलीवरी और बच्चे की गर्भ में मृत्यु जैसी समस्याएं भी उत्पन्न हो सकती है। नीचे कुछ परिस्थितियां बताई गयी है जिनमे ग्रीन टी का सेवन हानिकारक होता है।

  1. इसका अधिक सेवन करने से व्यक्ति इसका आदि हो जाता है और न मिलने पर उसके मन बेचैन हो जाता है।
  2. इसके अतिरिक्त उस व्यक्ति को बिना परिश्रम के भी बी थकावट महसूस होती है।
  3. ग्रीन टी का सेवन करने से नींद नहीं आती और अनिद्रा की समस्या उत्पन्न हो सकती है।
  4. ग्रीन टी का अत्यधिक सेवन करने से liver और Kidney में समस्या उत्पन्न हो सकती है।
  5. इसका सेवन करने से भूख भी नहीं लगती।
  6. जो महिलाएं गर्भधारण की इच्छा रखती है उन्हें ग्रीन टी का सेवन नहीं करना चाहिए।
  7. गर्भवती महिला को ग्रीन टी का सेवन डॉक्टर से विचार विमर्श करके ही करना चाहिए।
  8. गर्भधारण के समय ग्रीन टी का सेवन करने से नवजात शिशु के वजन में कमी भी आ सकती है।

तो दोस्तो, हमारा ये आर्टिकल आपको कैसा लगा? अगर अच्छा लगा, तो इसे अन्य लोगों के साथ भी ज़रूर शेयर करें। न जाने कौन-सी जानकारी किस ज़रूरतमंद के काम आ जाए। साथ ही, अगर आप किसी ख़ास विषय या परेशानी पर आर्टिकल चाहते हैं, तो कमेंट बॉक्स में हमें ज़रूर बताएं। हम यथाशीघ्र आपके लिए उस विषय पर आर्टिकल लेकर आएंगे। धन्यवाद।

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे फेसबुक पेज पर जाकर इसे लाइक करें

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे इंस्टाग्राम पेज पर जाकर इसे लाइक करें

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे टवीटर पेज पर जाकर इसे लाइक करें

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर इसे सब्सक्राइब करें

 

Ayurvedic Health Care Advertisement

2 COMMENTS

  1. Hmm it looks like your website ate my first comment (it was extremely long) so I guess I’ll just sum it up what I had written and say,
    I’m thoroughly enjoying your blog. I too am an aspiring blog writer but I’m
    still new to the whole thing. Do you have any points for first-time blog
    writers? I’d really appreciate it.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here