पीरियड्स में पेट दर्द से छुटकारा पाने के घरेलू उपाय

927
5067
Home Remedies To Relieve Menstrual

Home Remedies To Relieve Menstrual Pain In Periods: हर महीने होने वाले पीरियड्स कई बार महिलाओं के लिए परेशानी का कारण बन जाते है। ऐसे तो यह परेशानी हर महीने होती ही हैं लेकिन बहुत बार इसके कारण महिलाओं को बहुत अधिक शारीरिक परेशानी झेलनी पड़ती है। जो अधिकतर पेट दर्द और पीठ दर्द की होती है।

वर्तमान में बदलती जीवनशैली, बाहर का वातावरण और खान-पान में बदलाव के कारण अधिकतर महिलाओं को पीरियड्स के दौरान बहुत तेज पेट दर्द और पीठ दर्द होता है। अगर ज्यादा दर्द होता है तो पीरियड्स के पेट दर्द में दवा खा सकते हैं लेकिन बिना डॉक्टर की सलाह के कोई भी दवा नहीं खानी चाहिए। लेकिन कुछ घरेलू उपाय हैं जिनकी मदद से बिना दवा खाये पीरियड्स के पेट दर्द से निजात पाई जा सकती है। क्योंकि ये सभी उपाय पूरी तरह घरेलू हैं इसीलिए इनके कोई साइड इफ़ेक्ट भी नहीं हैं।

पीरियड्स में पेट दर्द को दूर करने के उपाय (Measures To Relieve Abdominal Pain In Periods):

Home Remedies To Relieve Menstrual

पीरियड्स में तेज पेट दर्द होने पर इन उपायों का प्रयोग कर सकते हैं। ये उपाय ना तो बहुत ज्यादा खर्चीले हैं और ना ही इनके कोई साइड इफेक्ट हैं इसलिए आप बिना झिझक इन उपायों का प्रयोग कर सकती हैं।

अजवाइन (Celery)-

पीरियड्स के दौरान गैस की समस्या बढ़ जाती है जिसके कारण बहुत तेज पेट दर्द होने लगता है। अगर आपके साथ भी ऐसा कुछ होता है तो आप अजवाइन का सेवन करके दर्द से निजात पा सकते हैं। इसके लिए गुनगुने पानी में आधा चम्मच अजवाइन और आधा चम्मच नमक मिलाकर पी लें। दर्द में आराम मिलेगा।

तुलसी (Basil)-

पीरियड्स के दर्द में तुलसी प्राकृतिक औषधि के रूप में काम करती है। इस मौजूद तत्व पेट दर्द में आराम दिलाते हैं। इसके लिए तुलसी के पत्तों की चाय का सेवन लाभकारी रहेगा। ज्यादा पेट दर्द होने पर तुलसी के 7 से 8 पत्तों को उबालकर छान लें और उसका सेवन करें।

अदरक (Ginger)-

अदरक का सेवन करने से भी पीरियड्स में होने वाले पेट दर्द में आराम मिलता है। इसके लिए एक कप पानी में कुटी हुई अदरक डालकर अच्छे से उबाल लें। उसके बाद स्वाद के अनुसार चीनी मिलाकर पी लें। दिन में 3 बार खाना खाने के बाद इसका सेवन करें दर्द ठीक हो जाएगा।

पपीता (Papaya)-

पीरियड्स में रक्त का ठीक फ्लो होना भी बहुत जरुरी होता है लेकिन जब यह फ्लो ठीक तरह से नहीं हो पाता तो पेट दर्द करने लगता है। इस स्थिति में पपीते का सेवन करना पेट के लिए लाभकारी होता है। पीरियड्स में पपीता खाने से फ्लो तो अच्छा होता है साथ-साथ पेट दर्द भी ठीक होता है।

डेरी प्रोडक्ट (Dairy Product)-

पीरियड्स के दौरान दूध और उससे बने प्रोडक्ट्स का सेवन करने से भी पेट और पीठ दर्द में आराम मिलता है। जिन महिलाओं के शरीर में कैल्शियम की कमी होती है उन्हें पीरियड्स के दौरान बहुत सी समस्याएं होती हैं। लेकिन अगर आप नियमित रूप से दूध और उससे बने प्रोडक्ट का सेवन करेंगी तो शरीर में कैल्शियम की कमी तो पूरी होगी ही साथ-साथ पेट दर्द में भी आराम मिलेगा।

सिकाई (Sikai)-

पीरियड्स के दौरान पेट और पीठ में बहुत तेज दर्द होता है और कई बार स्थिति इतनी खराब होती है की कोई उपाय करने का मन भी नहीं करता। ऐसे में सिकाई बहुत आराम देती है। इसके लिए आप गर्म पानी की थैली या इलेक्ट्रिक हीटिंग पेड का इस्तेमाल कर सकती हैं। ये पेट और पीठ दर्द में आराम दिलाता है।

तो ये थे कुछ सामान्य घरेलू उपाय जिनका प्रयोग करके माहवारी में होने वाले पेट दर्द से निजात पाई जा सकती हैं। अगर आप इन उपायों का इस्तेमाल सही तरीके से करेंगी तो निश्चित ही पेट दर्द में आराम मिल जाएगा।

तो दोस्तो, हमारा ये आर्टिकल आपको कैसा लगा? अगर अच्छा लगा, तो इसे अन्य लोगों के साथ भी ज़रूर शेयर करें। न जाने कौन-सी जानकारी किस ज़रूरतमंद के काम आ जाए। साथ ही, अगर आप किसी ख़ास विषय या परेशानी पर आर्टिकल चाहते हैं, तो कमेंट बॉक्स में हमें ज़रूर बताएं। हम यथाशीघ्र आपके लिए उस विषय पर आर्टिकल लेकर आएंगे। धन्यवाद।

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे फेसबुक पेज पर जाकर इसे लाइक करें

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे इंस्टाग्राम पेज पर जाकर इसे लाइक करें

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे टवीटर पेज पर जाकर इसे लाइक करें

कृपया यहां क्लिक करें और हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर इसे सब्सक्राइब करें

 

Ayurvedic Health Care Advertisement

927 COMMENTS

  1. Admiring the persistence you place into your situation and
    in astuteness information you allow. It’s courteous to fare
    crosswise a web log every erst in a while that isn’t the Saame
    older rehashed fabric. Wonderful register! I’ve saved your internet site and I’m including your RSS feeds to my Google score. http://www.stdstory.com/

  2. During intimate arousal, chemical element oxide (NO) is discharged from boldness
    terminals and endothelial cells in the principal cavernosum.
    NO activates guanylate cyclase to convince guanosine triphosphate (GTP) into cyclic deoxyguanosine monophosphate (cGMP), triggering
    a cGMP-dependant cascade of events. The accretion of cGMP leads to
    smooth-muscular tissue slackening in the principal cavernosum and increased roue current to the penis. http://lm360.us/

  3. Heya! I just wanted to ask if you ever have any issues with hackers?
    My last blog (wordpress) was hacked and I ended up losing several weeks of hard work due to no back up.
    Do you have any methods to prevent hackers?

  4. Scleroderma, or systemic sclerosis, is a chronic connective tissue disease generally classified as one
    of the autoimmune rheumatic diseases. https://viashoprx.com Scleroderma, or systemic sclerosis, is a chronic connective tissue disease generally classified as one of the autoimmune rheumatic diseases.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here